logo-image
लोकसभा चुनाव

ओशो से प्रभावित होकर दो युवकों ने किया सुसाइड, लिखा- 'मृत्यु ही सत्य'

ओशो के प्रवचन से प्रभावित होकर दो युवकों ने आत्महत्या कर ली. मरने से पहले उन्होंने इंस्टाग्राम पर लिखा था कि मृत्यु ही सत्य.

Updated on: 29 May 2024, 07:24 PM

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के जालौन में ओशो का उपदेश सुनने के बाद दो दोस्तों ने आत्महत्या कर ली. दोनों दोस्तों ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की. मरने से पहले दोस्तों ने प्रसिद्ध दार्शनिक ओशो का उपदेश सुना था और वे ओशो से बहुत प्रभावित हुए थे. अपनी मौत से पहले उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर चिता, अंतिम संस्कार जैसे स्टेटस पोस्ट किए थे और फिर अपनी जान दे दी. सुसाइड की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.

इलाज के दौरान हुई मौत

मिली जानकारी के मुताबिक मामला जालौन के कालपी कोतवाली क्षेत्र का है, जहां अमन वर्मा और बालेंद्र पाल नाम के दो दोस्तों ने कल सुनसान जगह पर जाकर जहरीला पदार्थ खाकर मौत को गले लगा लिया. बालेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अमन की हालत बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया और परिवार को सूचना दी गई. कालपी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अमन का इलाज शुरू हुआ लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. अमन इलाज के दौरान ही दम तोड़ दिया.

ये भी पढ़ें- मैजिक वॉयस से निकालता था महिला की आवाज...फिर लड़कियों को बनाता था अपना शिकार, किया 7 युवतियों के साथ रेप

आखिर पोस्ट में क्या लिखा था?

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी. जांच में पता चला कि अमन और बालेंद्र दो जिगरी दोस्त थे. अमन मेडिकल स्टोर चलाता था और शादीशुदा था जबकि बालेंद्र की शादी नहीं हुई थी. वह अमन के साथ ज्यादा समय बिताता था. इन दोनों ने अपनी मौत से पहले जो स्टेटस पोस्ट किया था उससे लग रहा है कि ये दोनों ओशो से काफी प्रभावित थे क्योंकि इन्होंने ओशो की फोटो और अंतिम संस्कार से जुड़ी पोस्ट शेयर की थीं. फोटो में लिखा था कि 'मृत्यु ही सत्य'.