logo-image

यूं पहचानें सिर और गर्दन का कैंसर, ताकि सुरक्षित रहें आप...

सिर और गर्दन के कैंसर के लक्षण अलग-अलग लोगों में अलग-अलग तरह से नजर आते हैं. तंबाकू या शराब से दूरी हमें इससे सुरक्षित रखती है. ऐसे में आइये जानें गला और गर्दन में होने वाले कैंसर के शुरुआती लक्षण क्या होते हैं...

Updated on: 16 Sep 2023, 04:22 PM

नई दिल्ली:

कैंसर से बचा जा सकता है... दरअसल आज भारत में एक चौथाई पुरुष और महिला कैंसर के मरीज हैं. यानि कैंसर की जानलेवा बीमारी धीरे-धीरे हमारे देश में पैर पसार रही है. इस खौफनाक आंकड़े के बावजूद भी, हम कई बार इसे नजरअंदाज कर देते हैं. मगर अगर कैंसर के तमाम लक्षणों की पहचान समय रहते कर ली जाए, तो इससे बचाव भी संभव है. बदा दें कि पूरी दुनिया में सिर और गर्दन का कैंसर, सबसे आम कैंसरों में से एक हैं. लिहाजा आज हम इस तरह के कैंसर के शुरुआती लक्षण की पहचान और इसके बचाव पर बात करेंगे. 

दरअसल, सिर और गर्दन के कैंसर के लक्षण अलग-अलग लोगों में अलग-अलग तरह से नजर आते हैं. तंबाकू या शराब से दूरी हमें इससे सुरक्षित रखती है. ऐसे में आइये जानें गला और गर्दन में होने वाले कैंसर के शुरुआती लक्षण क्या होते हैं...

1. गले में खराश

खाना खाने में दिक्कत, पानी पीने में दिक्कत, गले में दर्द सहित अन्य समस्याओं के साथ-साथ गले में होने वाली खराश भी सिर और गर्दन में कैंसर का एक लक्षण साबित हो सकती है. ऐसे अगर आपको भी ऐसा कुछ महसूस हो, तो फौरन डॉक्टर से जांच करवाएं. 

2. आवाज में तबदीली

एक और चीज ध्यान रखें कि सिर और गर्दन में कैंस के लक्षण बेहद आम होते हैं, इतने की कई बार लोग इसे आम बीमारी भी समझ बैठते हैं. जैसे जैसे पुरानी खांसी, कान में दर्द सहित कुछ अन्य लक्षण, ऐसे में अगर आपको ऐसा कुछ महसूस हो, तो इसे नजरअंदाज न करें, बल्कि फौरन डॉक्टर को इसकी सूचना दें और जल्द से जल्द इसका इलाज करवाएं, ताकि इससे पहले की ये कैंसर का रूप ले ये ठीक हो जाए. 

क्या है बचाव के उपाय

ऐसा नहीं है कि इससे बचाव संभव नहीं. अगर समय रहते सबकुछ ठीक तरह से ख्याल रखा जाए, तो आप कैंसर से बच सकते हैं. दरअसल अगर आप चाहते हैं, इससे बचे रहना, तो शराब और तंबाकू से परहेज करें. न सिर्फ इतना, बल्कि स्मोकिंग से बचें साथ ही साथ अपनी हेल्थ का खास ख्याल रखें. 

ध्यान ये भी रखें कि धूल में ज्यादा न रहें. और एचपीवी वैक्सीन जरूर लें, जिससे कैंसर का खतरा काफी हद तक कम होगा.