logo-image
लोकसभा चुनाव

Sawan Month 2024: इन शुभ योग में शुरू होगा सावन का महीना, जानें इस बार कितने सोमवार आएंगे 

Sawan Month 2024: सावन का महीना इस साल जुलाई के महीने में शुरू हो जाएगा. इस बार बेहद शुभ योग में सावन के महीने की शुरुआत हो रही है और सावन में कई ऐसे दूसरे शुभ योगों का भी निर्माण हो रहा है जो आपको पूजा का कई गुना फल देगा.

Updated on: 09 Jul 2024, 12:14 PM

नई दिल्ली:

Sawan Month 2024: साल 2024 में सावन का महीना 22 जुलाई, सोमवार से शुरू हो रहा है. किसी भी शुभ दिन की शुरुआत अगर शुभ नक्षत्र और योग में होती है तो माना जाता है कि उस दौरान की जाने वाली पूजा का फल मिलने में समय नहीं लगता. इस साल सोमवार से शुरू होने वाले सावन के महीने के पहले दिन श्रवण नक्षत्र, प्रीति योग और सर्वार्थ सिद्धि योग का अद्भुत संयोग बनेगा. यह शुभ संयोग महादेव के भक्तों के लिए अत्यंत फलदायी माना जाता है. प्रीति योग 22 जुलाई को सूर्योदय से 11:40 बजे तक रहेगा. सर्वार्थ सिद्धि योग भी इस दिन सूर्योदय से रात 11:40 बजे तक रहेगा. सावन के पहले दिन श्रवण नक्षत्र पूरा दिन रहने वाला है. 

सावन में आएंगे पांच सोमवार (Sawan Somwar 2024)

इस साल सावन में 5 सोमवार पड़ेंगे: 22 जुलाई, 29 जुलाई, 5 अगस्त, 12 अगस्त और 19 अगस्त.

पहला सावन सोमवार: 22 जुलाई 2024 (श्रवण नक्षत्र, प्रीति योग, सर्वार्थ सिद्धि योग)

दूसरा सावन सोमवार: 29 जुलाई 2024 (धनिष्ठा नक्षत्र, रवि योग)

तीसरा सावन सोमवार: 5 अगस्त 2024 (शततारका नक्षत्र, अमृत योग)

चौथा सावन सोमवार: 12 अगस्त 2024 (पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र, सिद्ध योग)

पांचवां सावन सोमवार: 19 अगस्त 2024 (उत्तराषाढ़ा नक्षत्र, त्रयोदशी योग)

शुभ योग (Sawan 2024 Shubh Yogas)

सावन में 3 शुभ योग बनेंगे

- 22 जुलाई: सर्वार्थ सिद्धि योग, प्रीति योग और श्रवण नक्षत्र

- 28 जुलाई: रवि योग

- 11 अगस्त: त्रिवेणी योग

अगर आप इन शुभ योग का महत्व नहीं जानते तो ये भी जान लें. सर्वार्थ सिद्धि योग में किए गए सभी कार्य सफल होते हैं. प्रीति योग प्रेम, विवाह और मित्रता के लिए शुभ माना जाता है. श्रवण नक्षत्र भगवान शिव का प्रिय नक्षत्र माना जाता है. इसके अलावा सावन के महीने में रवि योग भी है जो सूर्य देव से संबंधित है और ज्ञान, समृद्धि और सफलता प्रदान करता है. 11 अगस्त को त्रिवेणी योग भी बनेगा. तीन ग्रहों - सूर्य, चंद्र और बृहस्पति के संयोजन से बनता है और यह शुभता, समृद्धि और आध्यात्मिक उन्नति प्रदान करता है.

Religion की ऐसी और खबरें पढ़ने के लिए आप न्यूज़ नेशन के धर्म-कर्म सेक्शन के साथ ऐसे ही जुड़े रहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं. न्यूज नेशन इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है. इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है.)