logo-image
लोकसभा चुनाव

'25 करोड़ मामूली संख्या नहीं है', नौकरी के मुद्दे पर तेजस्वी ने PM को घेरा

बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां एक दूसरे के खिलाफ जमकर बयानबाजी कर रही हैं. इस बीच बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार को कहा कि, ''प्रधानमंत्री की गलत नीतियों के कारण आज 25 करोड़ नौजवान बेरोजगार हो गए.

Updated on: 15 May 2024, 04:18 PM

highlights

  • नौकरी के मुद्दे पर तेजस्वी यादव का बड़ा बयान
  • कहा- '25 करोड़ मामूली संख्या नहीं है'
  • तेजस्वी यादव और गिरिराज सिंह आमने-सामने

Patna:

Bihar Lok Sabha Election 2024: बिहार में लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियां एक दूसरे के खिलाफ जमकर बयानबाजी कर रही हैं. इस बीच बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार को कहा कि, ''प्रधानमंत्री की गलत नीतियों के कारण आज 25 करोड़ नौजवान बेरोजगार हो गए. नौकरी के लिए उनकी उम्र की सीमा अधिक हो गई. उनको नौकरी नहीं मिल रही है. उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ किया गया है. 25 करोड़ मामूली संख्या नहीं है. अब तेजस्वी यादव के इस बयान ने बिहार की राजनीति में हलचल मचा दी है.

आपको बता दें कि आगे तेजस्वी यादव ने कहा कि, ''प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद नीति बनाई थी कि 75 साल की उम्र के बाद लोग मार्गदर्शक मंडली में जाएंगे. जब अग्निवीर योजना में 22 साल में वे (पीएम मोदी) लोगों को रिटायर कर रहे हैं और 25 करोड़ को ओवरएज कर रहे हैं तो मुझे विश्वास है कि अपनी बनाई हुई नीति के अनुसार 74-75 साल की उम्र में वे खुद मार्गदर्शक मंडली में बैठेंगे.''

यह भी पढ़ें: सुशील मोदी के निधन पर फफक-फफक कर रो पड़े अश्विनी चौबे, जानें क्या कहा?

तेजस्वी यादव और गिरिराज सिंह आमने-सामने

वहीं, आपको बता दें कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राजद नेता तेजस्वी यादव को ''झूठा का सरदार'' कहा था, इस बयान पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि, ''बेकार और बिना तर्क की बातों पर डिस्कशन में भाग लेने के लिए हमारे पास समय नहीं है. उनकी बातों में कोई गंभीरता नहीं है, जो मुंह में आता है बोल देते हैं.'' बता दें कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने नेता प्रतिपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा था कि, ''वे 'जॉब शो' नहीं 'जंगल शो', 'अपहरण शो' कर सकते हैं. तेजस्वी ने एक भी नौकरी नहीं दी, वह झूठ बोल रहे हैं.'' वहीं आगे उन्होंने सवाल करते हुए कहा था कि, ''तेजस्वी बताएं कि बिहार सरकार में पांच-पांच विभाग लेकर उन्होंने कितनी नौकरियां दी?''

आपको बता दें कि तेजस्वी यादव को उन्होंने 'झूठों का सरदार' भी बताया है. गिरिराज सिंह ने कहा है कि, ''जनता उनके साथ नहीं है, गरीब उनके साथ नहीं है. हमारे नेता नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार के कारण सभी पिछड़े और गरीबों का वोट मिल रहा है, जिसका पता लालू यादव को भी नहीं है.''