logo-image
लोकसभा चुनाव

CM नीतीश के वायरल वीडियो पर तेजस्वी ने ऐसा क्या कहा? मचा सियासी बवाल

Bihar Politics News: बिहार की राजनीति में सीएम नीतीश कुमार एक वीडियो को लेकर चर्चा में आ गए हैं. इस बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

Updated on: 10 Jul 2024, 06:16 PM

highlights

  • CM नीतीश के वायरल वीडियो पर सियासी बवाल
  • तेजस्वी ने CM नीतीश पर कसा तंज 
  • बिहार में मचा सियासी घमासान 

 

New Delhi:

Bihar Politics News: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक बार फिर से चर्चा में आ गए हैं. पटना में 10 जुलाई को आयोजित एक सरकारी कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक अधिकारी के सामने हाथ जोड़ते नजर आए और अब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है. वहीं इस वीडियो ने बिहार की राजनीति में उबाल ला दिया है और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इस मुद्दे को लेकर अब मुख्यमंत्री पर तीखे हमले किए हैं. 

यह भी पढ़ें: हिमाचल की इन तीन सीटों पर हो रहे हैं उपचुनाव, जानें अब तक कितना हुआ मतदान

तेजस्वी यादव का हमला

विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को 'सबसे असहाय, बेबस और लाचार' मुख्यमंत्री बताया. तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार में अपराध, भ्रष्टाचार और प्रशासनिक अराजकता चरम पर है. उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि नीतीश कुमार की कमजोर स्थिति के कारण अधिकारी और कर्मचारी उनके आदेशों को नहीं मानते.

वीडियो का घटनाक्रम

आपको बता दें कि ये वायरल वीडियो जेपी गंगा पथ के तीसरे फेज के उद्घाटन समारोह का है. इस कार्यक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अधिकारियों से राघोपुर पुल के निर्माण कार्य की प्रगति के बारे में जानकारी ले रहे थे, जहां अचानक मंच से नीतीश कुमार अधिकारी के सामने हाथ-पैर जोड़ने लगे, जिसके बाद से ही उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा. अब ये वीडियो हर प्लेटफॉर्म पर वायरल हो गया है. बता दें कि वायरल वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि मंच पर बिहार के उपमुख्यमंत्री विजय सिन्हा, सम्राट चौधरी और विधानसभा अध्यक्ष नंदकिशोर यादव भी मौके पर मौजूद थे.

राजनीतिक बयानबाजी

इसके साथ ही आपको बता दें कि इस वायरल वीडियो के सामने आने के बाद राजनीतिक हलकों में बयानबाजी शुरू हो गई है. तेजस्वी यादव ने अपने बयान में कहा, ''पूरे विश्व में इतना असहाय, अशक्त, अमान्य, अक्षम, विवश, बेबस, लाचार और मजबूर कोई मुख्यमंत्री होगा जो बीडीओ, एसडीओ, थानेदार से लेकर वरीय अधिकारियों और संवेदक के निजी कर्मचारी के सामने बात-बात पर हाथ जोड़ने और पैर पड़ने की बात करता हो?'' साथ ही आगे उन्होंने ये भी कहा कि कमजोर मुख्यमंत्री के कारण बिहार में प्रशासनिक अराजकता बढ़ रही है और अधिकारी मुख्यमंत्री की बात नहीं सुनते हैं.

नीतीश कुमार की प्रतिक्रिया

बहरहाल, नीतीश कुमार की तरफ से इस मामले पर अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है, लेकिन उनके समर्थकों का कहना है कि मुख्यमंत्री का यह कदम प्रशासनिक अधिकारियों को सख्ती से काम करने के लिए प्रेरित करने का एक तरीका था. समर्थकों का मानना है कि नीतीश कुमार प्रशासन में सुधार लाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं, और इस घटना को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है.