logo-image
लोकसभा चुनाव

चुनाव हारने के बाद पवन सिंह ने किया बड़ा ऐलान, जानें भोजपुरी स्टार का पूरा प्लान

भोजपुरी सिनेमा के मशहूर अभिनेता पवन सिंह ने हाल ही में लोकसभा चुनाव 2024 में बिहार की कारकाट सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था. उनकी उम्मीदवारी ने इस सीट पर सबकी निगाहें केंद्रित कर दी थीं.

Updated on: 11 Jun 2024, 01:05 PM

highlights

  • चुनाव हारने के बाद पवन सिंह ने किया बड़ा ऐलान
  • जानें भोजपुरी स्टार का पूरा पॉलिटकल करियर प्लान
  • चुनाव में हार के बाद अब करेंगे राजनीतिक सफर की नई शुरुआत

 

New Delhi:

Pawan Singh New Party Announcement: भोजपुरी सिनेमा के मशहूर अभिनेता पवन सिंह ने हाल ही में लोकसभा चुनाव 2024 में बिहार की कारकाट सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा था. उनकी उम्मीदवारी ने इस सीट पर सबकी निगाहें केंद्रित कर दी थीं. हालांकि, पवन सिंह चुनाव जीतने में असफल रहे, लेकिन उन्होंने एनडीए के उम्मीदवार उपेंद्र कुशवाहा से ज्यादा वोट हासिल किए. यह दिलचस्प है कि पीएम मोदी और अमित शाह ने खुद कुशवाहा के लिए प्रचार किया था तब भी उपेंद्र कुशवाहा इस सीट से हार गए.

चुनाव में हार के बाद राजनीतिक सफर की नई शुरुआत

चुनाव में मिली हार के बावजूद पवन सिंह ने अपने राजनीतिक करियर को नई दिशा देने का फैसला किया है. जनता के प्यार और समर्थन से उत्साहित पवन सिंह ने अपनी राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान किया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उनकी पार्टी का नाम 'सर्व समाज पार्टी' होगा. इस पार्टी का उद्देश्य बिहार की सभी विधानसभा सीटों पर 2025 के चुनाव में प्रत्याशी खड़ा करना है.

यह भी पढ़ें: मोदी कैबिनेट की आज हो सकती है पहली बैठक, Modi 3.0 में 72 मंत्री, 33 नए चेहरे

सर्व समाज पार्टी का उद्देश्य और पवन सिंह की रणनीति

वहीं सर्व समाज पार्टी के गठन के पीछे पवन सिंह का उद्देश्य बिहार में एक नया राजनीतिक विकल्प प्रस्तुत करना है, जो हर वर्ग और समाज की आवाज बने. पवन सिंह ने अपनी पार्टी के माध्यम से बिहार की राजनीति में एक नया अध्याय लिखने की योजना बनाई है. इसके लिए उन्होंने व्यापक रूप से आशीर्वाद यात्रा निकालने का भी निर्णय लिया है.

भोजपुरी स्टार का नया अवतार

भोजपुरी फिल्मों में अपनी धाक जमाने वाले पवन सिंह अब राजनीति के मैदान में भी अपनी पहचान बनाने के लिए तैयार हैं. उनके करीबियों के अनुसार, पवन सिंह अब पूरे बिहार में जनता के बीच जाकर आशीर्वाद यात्रा के माध्यम से अपने राजनीतिक सफर की शुरुआत करेंगे. यह यात्रा उन्हें जनता के और करीब लाने के साथ-साथ उनकी नई पार्टी के प्रति लोगों में जागरूकता फैलाने का भी काम करेगी.

पवन सिंह ने लोगों के लिए काम करते रहने का दिया संकेत

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में हार के बाद भी पवन सिंह ने जनता का आभार जताया था और यह भी संकेत दिया था कि वह जनता के लिए काम करते रहेंगे. पवन सिंह ने अपने सोशल मीडिया एक्स अकाउंट पर की गई अपनी पोस्ट में लिखा था, ''हार तो क्षणिक है हौसला निरंतर रहना चाहिए हम तो वो है वैसे लोगों में है जो विजय पर गर्व नहीं करते और हार पर खेद और शोक नहीं करते. ख़ुशी और गर्व इस बात की है की काराकाट की जनता ने मुझे अपना बेटा-भाई स्वीकार कर इतना प्यार दुलार और आशीर्वाद जो दिया उसके लिए आप सभी का दिल से धन्यवाद.''  

बिहार की काराकाट सीट से चुनाव लड़े थे पवन सिंह 

इसके अलावा आपको बता दें कि भोजपुरी सुपरस्टार पवन सिंह बिहार की काराकाट सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़े थे. उनका मुकाबला एनडीए उम्मीदवार उपेंद्र कुशवाहा और सीपीआई (एमएल) के राजा काम से था. काराकाट सीट पर हुए इस त्रिकोणीय मुकाबले में राजाराम सिंह 3 लाख 18 हजार 730 वोट पाकर विजयी हुए, जबकि पवन सिंह 2 लाख 26 हजार 474 वोट पाकर दूसरे स्थान पर रहे जबकि उपेंद्र कुशवाहा 2 लाख 17 हजार 109 वोट पाकर तीसरे स्थान पर रहे.