logo-image
लोकसभा चुनाव

झारखंड में भी गर्मी ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, गढ़वा का पारा 48 डिग्री पहुंचा

भीषण गर्मी की चपेट में आए झारखंड के अधिकांश इलाकों में बुधवार को अधिकतम तापमान 40 से 48 डिग्री के बीच दर्ज किया गया. वहीं रांची स्थित मौसम केंद्र ने कहा, ''गुरुवार को भी उच्च तापमान और हीटवेव से राहत की उम्मीद नहीं है.''

Updated on: 30 May 2024, 02:54 PM

highlights

  • झारखंड में भी गर्मी ने तोड़े सारे रिकॉर्ड
  • गढ़वा का पारा 48 डिग्री पहुंचा
  • रांची के कई जिलों में हीट वेव का अलर्ट

 

 

Ranchi:

Jharkhand Weather Update Today: भीषण गर्मी की चपेट में आए झारखंड के अधिकांश इलाकों में बुधवार को अधिकतम तापमान 40 से 48 डिग्री के बीच दर्ज किया गया. वहीं रांची स्थित मौसम केंद्र ने कहा, ''गुरुवार को भी उच्च तापमान और हीटवेव से राहत की उम्मीद नहीं है.'' मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार को गढ़वा जिला मुख्यालय का अधिकतम तापमान 48 डिग्री दर्ज किया गया, जो राज्य में सबसे अधिक था. पलामू का तापमान 47.8 डिग्री रहा. इसको लेकर बताया गया है कि इन जिलों में एक दशक में यह सबसे अधिक तापमान है. रांची में तापमान 42.2 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से काफी अधिक है.

यह भी पढ़ें: झारखंड के इन जिलों में आज हो सकती है बारिश, वज्रपात को लेकर अलर्ट जारी

23 जिलों का पारा 40 डिग्री से पार

आपको बता दें कि जमशेदपुर, सरायकेला, बोकारो, चतरा, गिरिडीह और रामगढ़ जिले का अधिकतम तापमान 45 डिग्री के पार दर्ज किया गया है. करीब तीन दशक पहले तक पूर्वी भारत के हिल स्टेशनों में गिने जाने वाले रांची में भी अधिकतम तापमान 42.2 डिग्री दर्ज किया गया. बुधवार को साहेबगंज राज्य के बाकी हिस्सों की तुलना में कम गर्म रहा, यहां अधिकतम तापमान 36.6 डिग्री दर्ज किया गया.

रांची के कई जिलों में हीट वेव का अलर्ट

वहीं, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में गढ़वा और पलामू में भीषण गर्मी जारी रहने की संभावना जताई है, जिसमें रांची, चतरा, गिरिडीह, जमशेदपुर, सरायकेला, बोकारो, रामगढ़ और जमशेदपुर शहर के लोगों को भी हीटवेव को लेकर अलर्ट किया गया है. मौसम केंद्र ने इन इलाकों के लोगों से अतिरिक्त सतर्कता बरतने की अपील की है और सलाह दी है कि वे सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक घरों से बाहर न निकलें, जब तक कि बहुत जरूरी न हो. 31 मई और 1 जून को राज्य के कुछ इलाकों में बारिश की संभावना है.

कुछ हिस्सों में बारिश की संभावना

आपको बता दें कि रांची और संथाल परगना के इलाकों में हल्की बारिश के साथ-साथ गरज-चमक भी हो सकती है. इन दो दिनों में पूर्वी हवाएं चलने से लोगों को थोड़ी राहत मिल सकती है. वहीं, अस्पताल में हीट स्ट्रोक से प्रभावित लोगों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है. डॉक्टरों ने हीट स्ट्रोक के खतरे से बचने के लिए उच्च तापमान के संपर्क में आने से बचने की सलाह दी है. इसके अलावा डिहाइड्रेशन के खतरे को कम करने के लिए भरपूर पानी पीते रहना भी जरूरी है. गंभीर स्थितियों में इसके जानलेवा दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं.