logo-image
लोकसभा चुनाव

Rajasthan Weather: राजस्थान में आग उगल रहा आसमान, हीट स्ट्रोक से 2 BSF जवानों की बिगड़ी तबीयत

Rajasthan Weather: राजस्थान के जैसलमेर में इन दिनों नोतपा का दौर जारी है. शहर से लेकर सरहद तक आग बरसाने वाली गर्मी में अब तक 3 लोगों की जान जा चुकी है.

Updated on: 29 May 2024, 05:17 PM

New Delhi:

Rajasthan Weather: राजस्थान भर में गर्मी कहर बरपा रही हैं. हीटवेव के चलते मौत के मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे हैं.  ऐसे में जैसलमेर से लगती भारत-पाकिस्तान सीमा पर तापमान रिकॉर्ड बना रहा है. गर्मी के इस कहर से BSF के दो जवानों की तबीयत बिगड़ गई. दोनों को तुरंत जवाहर हॉस्पिटल लाया गया.  जहां उनकी गंभीर स्थिति देखते हुए उन्हें एडमिट किया गया है. BSF के इन 2 जवानों में से 1 महिला कॉन्स्टेबल भी शामिल है. दोनों जवाहर हॉस्पिटल में भर्ती हैं और बुखार से तप रहे हैं.

दो जवानों का अस्पताल में चल रहा ईलाज

जवाहर हॉस्पिटल में भर्ती BSF के जवान आरती ठाकुर (26) और एस विश्वास (24) ने बताया कि वे ड्यूटी कर रहे थे. सरहद पर तेज लू के थपेड़े चल रहे हैं. हालांकि गर्मी से बचाव के सभी साजो सामान हमारे पास थे मगर भीषण गर्मी से मानों जान ही निकल रही है. ऐसे में तेज बुखार, सरदर्द और चक्कर आदि आने लग गए. जिस पर BSF  के अधिकारियों ने उनको तुरंत ड्यूटी से वापस बुलाया और इलाज के लिए हॉस्पिटल भेजा. जहां दोनों भर्ती है और उनका इलाज जारी है .

हॉस्पिटल मस नही है पुख्ता इंतजाम

जैसलमेर के सबसे बड़े चिकित्सालय जवाहर चिकित्सालय में गर्मी से बचाव के लिए इलाज तो है. लेकिन यहां बिजली पानी की व्यवस्था के अभाव के चलते भर्ती जवानों के साथ ही अन्य लोगों का जीना दुश्वार हो गया है.  BSF की कॉन्स्टेबल आरती ठाकुर ने बताया कि जवाहर हॉस्पिटल में मरीजों के लिए कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है. उन्हें जिस वार्ड में रखा गया है वहां केवल 1 ही कूलर लगा है. इसके अलावा उनका जहां बेड है वहां पर पंखा तक नहीं है. जब शिकायत करते हैं तब हॉस्पिटल स्टाफ कहता है कि ये सरकारी अस्पताल हैं यहां यही सुविधा मिलेगी.  ऐसे में आरती ठाकुर ने इस भीषण गर्मी में अस्पताल में पंखे; कूलर आदि बढ़ाने की भी मांग की है.

हिटस्ट्रोक से अब तक 3 की मौत- 1जवान शामिल

गौरतलब है कि जैसलमेर में इन दिनों नोतपा का दौर जारी है. शहर से लेकर सरहद तक आग बरसाने वाली गर्मी में अब तक 3 लोगों की जान जा चुकी है. जिसमें से एक BSF का जवान भी शामिल है. ऐसे में सरहद की रखवाली कर रहे जवान भीषण गर्मी और लू में ड्यूटी करते समय हीट स्ट्रोक का शिकार हो रहे हैं.