logo-image
लोकसभा चुनाव

सड़कों पर नहीं पढ़ी जाएगी नमाज, कुर्बानी पर रहेगी पुलिस की नजर, यूपी में बकरीद को लेकर जारी हुए सख्त निर्देश

यूपी में बकरीद को लेकर सरकार ने सख्त निर्देश जारी किए हैं. अगर कोई भी व्यक्ति सड़क पर नमाज पढ़ता है तो उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई हो सकती है.

Updated on: 11 Jun 2024, 11:16 AM

नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में बकरीद को लेकर प्रशासन पूरी तरह सख्त है. प्रशासन ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं. प्रशासन ने कहा कि अगर किसी ने सड़क पर नमाज पढ़ी तो सख्त कार्रवाई की जाएगी. साथ ही चिह्नित स्थानों पर कुर्बानी दी जाएगी. वहीं, प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी पर भी प्रशासन की पैनी नजर रहेगी. इसको लेकर अल्पसंख्यक आयोग ने भी निर्देश जारी कर दिये हैं. देश भर में 17 जून को बकरीद है, जिसे लेकर साफ हिदायत दी गई है. उत्तर प्रदेश में सड़कों पर कहीं पर नमाज नहीं पढ़ सकते हैं. 

सड़क पर नमाज पढ़ना पड़ सकता है भारी

इस त्योहार को लेकर गृह विभाग और नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव और राज्य अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अशफाक सैफी ने आवश्यक कार्रवाई के लिए पत्र लिखा है. यूपी अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अशफाक सैफी के मुताबिक, इस बार नमाज के लिए सड़कों पर किसी के लिए जगह नहीं होगी. अगर कोई सड़क पर नमाज पढ़ने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ एक्शन हो सकता है. 

ये भी पढ़ें- ऋषिकेश में गंगा किनारे जबरदस्त लड़ाई, चले चप्पू.. कर दी पिटाई

कुर्बानी वाले इलाके में रहेगी पुलिस

मस्जिदों में अलग-अलग शिफ्ट में नमाज अदा की जाएगी. साथ ही प्रशासन ने सख्त निर्देश दिए हैं कि इस दौरान किसी भी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए. वहीं, जिन इलाकों में कुर्बानी दी जाएगी, उन पर भी पुलिस प्रशासन की नजर रहेगी.