logo-image
लोकसभा चुनाव

Chardham Yatra 2024: चारधाम यात्रा में मोबाइल ले जाने पर लगा प्रतिबंध, नियम तोड़ने पर होगी सख्त कार्रवाई

Chardham Yatra 2024: चारधाम यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार ने नया अपडेट जारी किया है. नए अपडेट के मुताबिक, चारधाम यात्रा के दौरान तीर्थयात्री अब अपने साथ मोबाइल नहीं ले जा सकेंगे.

Updated on: 16 May 2024, 05:02 PM

highlights

  • चारधाम यात्रा में लगी मोबाइल पर रोक
  • चारों धामों के मंदिर में नहीं ले जा पाएंगे मोबाइल
  • नियमों का उल्लंघन करने वालों पर होगी कार्रवाई

 

नई दिल्ली:

Chardham Yatra 2024: अगर आप भी चारधाम यात्रा पर जा रहे हैं तो आपके लिए ये जरूरी खबर है. क्योंकि उत्तराखंड में चल रही चारधाम यात्रा को लेकर नया अपडेट सामने आया है. दरअसल, सरकार ने चारों धामों में मंदिर परिसर में मोबाइल ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसी के साथ अब केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में मंदिरों के अंदर श्रद्धालु मोबाइल फोन साथ में नहीं ले जा सकेंगे. यही नहीं चारों धामों में मंदिर की 200 मीटर की रेंज में मोबाइल ले जाने पर भी रोक लगा दी गई है. उत्‍तराखंड की मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने गुरुवार को ये आदेश जारी किया.

ये भी पढ़ें: Terrorists Planning Attack In Jammu And Kashmir: चुनाव से पहले कश्मीर में बड़े आतंकी हमलों की साजिश, सुरक्षाबलों के निशाने पर ये है खूंखार आतंकी

नियमों का पालन न करने पर होगी कार्रवाई

उत्तराखंड की मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने चारधाम यात्रा के दौरान मोबाइल बैन करने के दिशा निर्देश जारी करते हुए कहा कि नियमों का पालन नहीं करने पर सख्त कार्रवाई होगी. इसके साथ ही ऋषिकेश में चारधाम यात्रा पर जा रहे वाहनों के लिए भी अहम जानकारी साझा की गई है. दरअसल, गढ़वाल कमिश्नर ने निर्देश जारी किए हैं कि भद्रकाली चैक पोस्ट पर स्लॉट के मुताबिक ही वाहनों को आगे जाने की अनुमति दी जाएगी. इस संबंध में परिवहन विभाग भी वाहनों की जांच कर रहा है.

ये भी पढ़ें: Lok Sabha Election 2024: पीएम मोदी ने यूपी में झोंकी पूरी ताकत, दो दिन में करेंगे ताबड़तोड़ रैलियां, आखिर क्या है मकसद? जानिए

चारधाम यात्रा में लगा तीर्थयात्रियों का तांता

उत्तराखंड की चारधाम यात्रा में हर साल की तरह इस साल भी तीर्थयात्रियों की भारी भीड़ देखने को मिल रही है. जानकारी के मुताबिक, अभी तक 3.37 लाख तीर्थ यात्री चारधाम के दर्शन कर चुके हैं. इनमें केदारनाथ में 1.55 लाख, बद्रीनाथ में 45,637 तीर्थयात्री, गंगोत्री में 66 हजार और यमुनोत्री में अब तक 70 हजार यात्री दर्शन करने के लिए पहुंच चुके हैं.

ये भी पढ़ें: '10 साल पहले जो असंभव था, वो आज हुआ संभव', प्रतापगढ़ की रैली में बोले PM मोदी

चारधाम यात्रा पर क्या बोलीं मुख्य सचिव राधा रतूड़ी

चारधाम यात्रा को लेकर उत्तराखंड की मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने कहा कि बहुत ज्यादा संख्या में श्रद्धालु चारधाम यात्रा के लिए आ रहे हैं. इसमें कई लोग बिना आस्था के घूमने के लिए भी आ रहे हैं. यही नहीं उनकी कुछ हरकतों की वजह से लोगों की आस्था को ठेस पहुंच रही है. उन्होंने कहा कि इस बात का विशेष ध्यान देने की जरूरत है कि यहां आस्था को कोई ठेस न पहुंचे और किसी की धार्मिक भावनाएं आहत न हों.