logo-image

UPI को लेकर एक जनवरी से आएगा बड़ा अपडेट, ऐसे लोग नहीं कर पाएंगे इस्तेमाल 

UPI Payment: इस निर्देश के बाद सभी एप्स और बैंक निष्क्रिय ग्राहकों की यूपीआई आईडी और उससे जुड़े मोबाइल नंबर को सत्यापित करेंगे.

Updated on: 16 Nov 2023, 05:21 PM

नई दिल्ली:

UPI Payment: यूपीआई को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है. नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) ने यूपीआई को लेकर बड़ा निर्देश दिया है. इसमें यूपीआई का परिचालन करने वाले संस्थान  PhonePe और Google Pay जैसे थर्ड पार्टी एप्स और बैंको को ऐसे निर्देश मिले हैं कि इस तरह के आईडी को बंद किया जाए. इनमें एक वर्ष तक किसी तरह का कोई लेनदेन नहीं हुआ है. ऐसा करने से पहले यूजर्स को ईमेल या मैसेज के जरिए अधिसूचना भी भेजने को कहा गया है. एनपीसीआई ने इसके लिए 31 दिसंबर का वक्त दिया है. NPCI के इस कदम से यूपीआई ट्रांजेक्शन और सुरक्षित होने की उम्मीद है. इस तरह से कई गलत ट्रांजेक्शन पर पाबंदी लग जाएगी. इस निर्देश के बाद सभी एप्स और बैंक निष्क्रिय ग्राहकों की यूपीआई आईडी और उससे जुड़े मोबाइल नंबर को सत्यापित करेंगे. एक साल अगर कोई क्रेडिट या फिर डेबिट नहीं हुआ तो यूपीआई आईडी को बंद किया क्लोज किया जाएगा. 

ये भी पढ़ें: Rajasthan Election 2023: बीजेपी ने जयपुर में जारी किया संकल्प पत्र, नड्डा बोले- जनता को मिलेंगी विशेष सुविधाएं

गलत ट्रांजेक्शन में आएगी कमी

अगर एक साल में किसी तरह का ट्रांजेक्शन इस आईडी से नहीं किया गया तो उसे बंद किया जाएगा. नए साल से उपभोक्त इन आईडी से कोई ट्रांजैक्शन नहीं कर सकेगा. एनपीसीआई को गलत  ट्रांजेक्शन की कई तरह की शिकायतें सामने आ रही हैं, जिसे देखते हुए यह कदम उठाया जा रहा है. ऐसा कई बार हुआ कि जब हम अपना मोबाइल नंबर बदलते हैं तो उससे जुड़ी यूपीआईडी को बंद नहीं करते हैं. यह नंबर किसी और दे दिया जाता है. इस तरह से पहले से ही यूपीआईडी सक्रिय हो जाती है. ऐसे में अगर उस नंबर से पैसे भेजे गए तो ये पैसे उस इंसान को मिलेंगे, जिसके पास अब यह नंबर है. 

ये भी पढ़ें: Toss Controversy: रोहित शर्मा के टॉस को लेकर पाकिस्तानी क्रिकेटर का कमेंट, पूछा इतनी दूर क्यों उछालते हैं सिक्का

जानें किसे कहते हैं यूपीआई 

यूपीआई का पूरा नाम Unified Payment Interface (UPI) होता है. इससे ऑनलाइन पेमेंट करना बड़ा आसान होता है. यूपीआई को तैयार करने में NPCI का मुख्य काम होता है. आप भीम, गूगल पे, फोन पे या किसी बैंक की ऐप पर यूपीआई आईडी जेनरेट करके इसे उपयोग कर   सकते हैं. यूपीआई का उपयोग करने को लेकर अतिरिक्त चार्ज नहीं देना पड़ता है.